#98

​”Every Test In Life Maks Us Bitter Or Better. Every Prblm Comes To Make Us Or Break Us. Choice Is Ours, To Bcome Victim Or Victorious””…”

Via source

Advertisements

#93

आज रात सर्दी कुछ ज्यादा थी

    सवेरे तेरी यादों के पन्ने गीले थे. . .

    
वैभव सागर

बहुत कुछ बोलती है आंखे

बहुत कुछ बोलती है आंखे

जो तुम सुन सको अगर 

इशारों में तोलती है आंखे

जो समझ सके अगर 

नूरानी ख्वाबों के साये

लिये कयी अरमाने दिल 

कुछ गहरा सा साजिश 

घोलती है आंखे

बहुत कुछ बोलती है आंखे

तुम्हारे सागर का किनारा 

कहीं डुबा सा है इनमे 

लिये सैलाब है कोई या 

लहरों की सरगमें 

कहीं कश्ती को किनारा 

इनमे नही मिलता 

खुद खो कर पार

लगाती है आंखे

बहुत कुछ बोलती है आंखे

ये काजल जो लगी इनमे 

इससे शामें उधार लूँ 

तेरे नैनो में देख

जिन्दगी गुजार दूँ

कही नैनो का इशारा

नैनो से हो जाये तो 

नैनो से तोलती है आंखे

बहुत कुछ बोलती है आंखे.

वैभव  सागर

#82

People always take the example and Romeo and Juliet as the perfect love story, but they don’t think about real relationships, relationship that begin from the very early years of two persons and last till they become Grandma and Grandpa. The love of old couple is always real, as they could live together and forgive mistakes to each other.

image